हम ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ को प्रतिगामी क्यों नहीं कहते : एकता कपूर

ekta-kapoor

नई दिल्ली| आमतौर पर हिंदी मनोरंजन चैनलों की सामग्री को उद्योग विशेषज्ञों द्वारा प्रतिगामी कहा जाता है। लेकिन टीवी की महारानी एकता कपूर महसूस करती है कि टेलीविजन लेखकों की बिना विराम लिए अनोखी कहानियां लिखने और दर्शकों की रुचि को बनाए रखने के लिए प्रशंसा की जानी चाहिए। एकता ने आईएएनएस से कहा, “टीवी आमलोगों का माध्यम है। हम ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ को प्रतिगामी क्यों नहीं कहते ? यह एक जैसा ही है-आप वहां एक महिला को ड्रैगन को जन्म देते हुए देखते हैं। ”

उन्होंने कहा, “मैं सोचती हूं हम भारत में अच्छी कहानियां लिख रहे हैं। जब मैं अमेरिका गई थी मैं एक अमेरिकी टीवी निर्माता से मिली थी। मुझे पता चला कि वह यहां लिखी जा रही कहानियों को लेकर हैरान थी। ”

छोटे पर्दे पर अभिनेता जितेंद्र की बेटी एकता कपूर की ‘हम पांच’ से शुरुआत 1995 में प्रभावशाली रही। उन्हें टीवी पर ‘सास-बहू’ और घरेलू राजनीति जैसे धारावाहिकों को उतारने के लिए भी जाना जाता है।

एकता ने कहा कि हमें लेखकों की एक धारावाहिक को आठ साल के लिए लिखे जाने की तारीफ करना चाहिए। जो चरित्रों को नए सिरे से गढ़ने के साथ बिना विराम लिए लिखते हैं और लगातार एक जैसी रेटिंग दे रहे हैं।

–आईएएनएस

945 total views, 1 views today