सोसायटी की हकीकत को बयां करती है ‘पार्च्ड’

parchedरिव्यूः ‘पार्च्ड’
कास्ट: राधिका आप्टे, सुरविन चावला और तनिष्ठा चटर्जी।
निर्देशक: लीना यादव
स्टार- 3

मुंबइ। लीना यादव की ‘पार्च्ड’ अब भारत में भी रिलीज हो चुकी है। ‘शब्द’ और ‘तीन पत्ती’ का निर्देशन कर चुकी लीना यादव की यह तीसरी फिल्मी है। इस फिल्म में बतौर फिल्मकार वह अपने सिग्नेचर के साथ मौजूद हैं। लीना यादव ने तन, मन और धन से अपनी मर्जी की फिल्म निर्देशित की है और यह फिल्म, खूबसूरत होने के साथ यथार्थ के करीब है।

कहानीः पार्च्ड फिल्म में महिलाओं पर हो रहे जूल्म को दर्शाया गया है। यह कहानी उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र के एक गांव की है। जीसमें विधवा महिला रानी (तनिष्ठा), एक महिला जिसको बच्चा नहीं है लज्जो (राधिका आप्टे) और बिजली(सुरवीन चावला) जो सेक्स वर्कर का काम कर रही है। यह तीनो महिलाएं हमारे समाज में सालों से चल रहा शारिरीक शोषण, बाल विवाह एवं आल्कोहोलिक पति के अत्याचारों से पीडित हैं। क्या यह तीनों महिलाएं समाज के इस तुच्छ बंधनों को तोडने में सफल होती हैं? यह जानने के लिए तो आपको फिल्म देखनी ही पडेगी।

निर्देशनः फिल्म डिरेक्टर लिना यादव आपको उस दुनिया में ले जाती है जहां जाके आप दुखि को होंगे ही, साथ में ही आपको सोचने पर मजबूर कर देंगी। सामाजिक समस्याओं पर कइं फिल्मं बनी है लेकिन पर्च्ड का प्लोट सबसे अलग है। चर्ड्स से जरिये लिना यादव ने अपनी काबिलियत का बेहतरीन नमुना पैश किया है। फिल्म में तीनों महिला के पात्र को सही तरीके से कनेक्ट किया गया है।

फिल्म के जरिये लिना यादव ने यह बताने की कोशिश की है की किस तरह आदमी पत्नी का इस्तेमाल सिर्फ सेक्स टॉय के रूप में करता है। इस फिल्म से एक और सुंदर बात दर्शकों के सामने रखी गइ है, की पुरुष भी बांज होते हैं, फिर भी अत्याचार सिर्फ महिला को ही क्यों सहना पडता है? तीनों अभिनेत्रीओं ने अपना किरदार बखुबी निभाया है।

इस फिल्म को 5 में से 3 स्टार दे शकते हैं।

141 total views, 2 views today