‘ऐ दिल है मुश्किल’ का रहा बुरा अनुभव : करन जौहर

मुंबई| फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान को लेने की वजह से महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) के निशाने पर आए करन जौहर का कहना है कि वह माफी मांगने वाले वीडियो को लेकर बुरा महसूस करते हैं। इस वीडियो में उन्होंेने भविष्य में किसी पाकिस्तानी कलाकार के साथ काम नहीं करने की बात कही थी। गौरतलब है कि उड़ी में सैन्य शिविर पर हमले में भारत ने पाकिस्तान का हाथ होने का आरोप लगाया, जिसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया। ऐसे में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) ने करन की फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ को रिलीज नहीं होने देने की धमकी दी थी, हालांकि करण द्वारा माफी मांगने का वीडियो जारी किए जाने के बाद मनसे ने अपना विरोध वापस ले लिया।

समाचार चैनल सीएनएन-न्यूज 18 के एंकर वीर संघवी को दिए साक्षात्कार में करन ने कहा, “‘ऐ दिल है मुश्किल’ के समय मैं विचारधारा और परिस्थिति के बीच फंस गया था। इस बारे में मेरे अपने विचार और धारणाएं थीं, लेकिन स्टूडियो, कलाकारों और फिल्म की टीम के प्रति मैं जवाबदेह हूं, इसलिए मुझे बयान देना पड़ा, जिसके बारे में मैं बुरा महसूस करता हूं।”

करन (44) ने बताया कि उन्हें कैमरे के सामने बैठकर अपनी राष्ट्रीयता और देशभक्ति के बारे में बोलना तकलीफदेह लगा।

उन्होंने कहा कि वह पिछले दो दशकों से फिल्म उद्योग का हिस्सा हैं और जब उन्हें माफी का वीडियो बनाने की सलाह दी गई तो उन्हें पीड़ा महसूस हुई।

फिल्मकार ने बताया कि वह फूट-फूट कर रोना चाहते थे। उन्हें उस समय ऐसा महसूस हुआ, जैसे किसी ने उनके सिर पर बंदूक तान रखी हो।

फिल्म ‘पद्मावती’ की शूटिंग के दौरान राजस्थान में फिल्मकार संजय लीला भंसाली पर हुए हमले की भी करन ने आलोचना की। उन्होंेने इसे हास्यास्पद बताया।

–आईएएनएस

404 total views, 2 views today

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*