राजकुमार राव की न्यूटन के लिए बनाई गई कई ईवीएम प्रतिकृतियां

राजकुमार राव की अगली फिल्म ‘न्यूटन’ चुनावों के बारे में बात करतीं हैं।  एक विशेष दृश्य के लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) लाने की चुनौती निर्माताओं को के सामने थी।न्यूटन एक सरकारी अफसर हौ, जो छत्तीसगढ़ के संघर्षग्रस्त जंगलों में निर्बाध चुनाव कराने के लिए दृढ़ संकल्प करता हैं।

जबकि निर्माता असली ईवीएम मशीनों को फिल्म की शूटिंग के लिए नहीं ला सकतें थे।इन ईवीएम मशीन्स की हूबहू प्रतिकृति बनाना निर्मातओं के लिए चुनौती जैसा था । फिल्म न्यूटन की आर्ट डायरेक्टर, एंजेलिका मोनिका भौमिक मुंबई मंत्रालय की ऑफिस पर गयी। और उन्होंने मशीनों के बारे में जानकारी ली। और इसे इस्तमाल करने का तरीका सीख लिया।

आदिवासी लोग बनें अमित मसुरकर के न्यूटन का हिस्सा

एंजेलिका का कहना है, “शूट शेड्यूल के दौरान, प्रोडक्शन टीम मंत्रालय के सरकारी अधिकारियों से मिली और दो-तीन बार कार्यालय में जाकर यह मशीन कैसा होता हैं, यह जाना। हमने इस इसत्माल करने का तरीका पहले सीख लिया। बाद में मशीनों की सटीक प्रतिकृति बनाने के लिए उनके कुछ फोटो निकालें। और हमने ईवीएम मशीन की 15 प्रतिकृतियां बनायीं।“

निदेशक अमित मसुरकर कहतें हैं, “ हमें असली ईवीएम मशीन इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं थी।  इसिलिए प्रोडक्शन डिजाइनर एंजेलिका मोनिका भौमिक कलेक्टर के दफ्तर गयीं। और उन्होंने असली मशीन का माप और तस्वीरें लीं। और फिर उन्होंने जो मशीन्स बनायी, वह इतनी हूबहू प्रतिकृती थी की, हमें फिल्म की शूटिंग करने के लिए मदद करनेवालें चुनाव स्वयंसेवकों को ऐसा लगा थी की, हम असली ईवीएम मशीन्स ही इस्तेमाल कर रहें हैं।“

इरोस इंटरनैशनल और आनंद एल राय प्रस्तुत दृष्यम प्रोडक्शन के सहयोग से बनी कलर यलो प्रोडक्शन की, फिल्म न्यूटन अमित वि मसुरकर व्दारा लिखीत और निर्देशित  हैं। 22 सितंबर को यह फिल्म  सिनेमाघरों में रिलीज होंगीं।

About kalpesh kandoriya 199 Articles
SocialMedia Inflence, #Blogger #Writer #Fodie #Explorer #SEO #DigitalMarketing

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*