सिर्फ पद्मावत ही नही, ये 10 फिल्में फंसी थी विवाद में

पद्मावत पहली फिल्म नहीं है जो भारत में विवाद के घेरे में है। संजय लीला भंसाली की कई फिल्मों का भारत में पहले भी विरोध हो चूका है। इसके अलावा कई ऐसे बडे डिरेक्टर और एक्टर्स है जिनकी फिल्मों का विरोध भी हो चूका है। आज हम ऐसी 10 फिल्मों की बात करेंगे, जिनका भारत में जोरतोड से विरोध हुआ था, लेकिन उन फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर काफी धमाल मचाया था।

 

पीके
इस फिल्म में धर्म के पाखंड पर टिप्पणी की गई है और इसमें होने वाले दिखावे का विरोध किया गया था। हालाँकी विरोध के बाद भी इस फिल्म ने काफी अच्छी कमाई की थी।

फना


फिल्म फना की रिलीज के वक्त आमिर खान ने नर्मदा बचाओ आंदोलन के सपोर्ट में बयान दिया था। जिसके चलते फना का काफी विरोध हुआ था। आमिर खान ने माफी मांगने से इनकार करने पर गुजरात में फिल्म फना पर बैन लगा दिया गया था और आमिर खान के पुतले को जलाया गया था।

गोलियों की रास लीला


संजय लीला भंसाली की फिल्म गोलियों की रास लीला भी काफी विवादों के घेरे में रही थी। इस फिल्म में गुजरात की दो कोम्युनिटी के बारे में बताया गया था, जिसके चलते फिल्म का विरोध हुआ था। और फिल्म का नाम राम-लीला रखने की वजह से भी फिल्म का विरोध हुआ था। जिसके बाद फिल्म का नाम बदल कर गोलियों की रास लीला रखा गया था।

मोहल्ला अस्सी


साल 2015में बनी सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी काफी विवाद में फसी थी। सेन्सर बोर्डने फिल्म की रिलीझ को रोक दिया था। इस फिल्म में काफी अभद्र भाषा का उपयोग किया गया है। हाँलाकी सेन्सर बोर्डने ए सर्टिफिकेट के साथ फिल्म को रिलीझ करने की मंजूरी दे दी है।

न्यू़ड


विद्या बालन की मराठी फिल्म न्यूड भी काफी विवाद में फसी थी। इस फिल्म में नशरुद्दीन शाह भी नजर आएंगे। भारी विवाद के बाद फिल्म को ए सर्टिफिकेट के साथ रिलीझ करने का फैसला लिया गया है।

विश्वरूपम


साउथ के स्टार कमल हसन की फिल्म विश्वरूपम पर भी विवाद का संकट मंडराया था। इस फिल्म के खिलाफ कंइ धर्मो के लोगोंने फरियाद दायर की थी। जिसके बाद कंइ स्टेट में फिल्म को रिलीझ न करने का निर्णय लिया गया था। तब कमल हसनने धमकी देते हुए कहा था की ‘अगर विश्वरुपम रिलीझ नहीं होगी तो वे इंडिया में नहीं रहेंगे।’

इन्डियाझ डॉटर


दिल्ही के निर्भया रेप केस पर इन्डियाझ डॉटर नाम की दस्तावेजी फिल्म बनायी गई थी। फिल्म में रेपीस्ट के इन्टर्व्यू भी थे। इस फिल्म का विरोध किया गया था और अब तक इन्डिया में रिलीझ नहीं हो पायी। हाँलाकी इन्टरनेशनल चेनल पे यह फिल्म रिलीझ हो पायी थी।

फायर


1996 में बनी एडल्ट फिल्म भी भारी चर्चा में रही थी। इस फिल्म से भारी हंगामा हुआ था। एडल्ट फिल्म में एक केरेक्टर का नाम सिता रखा गया था. जिसकी वजह से यह विवाद हुआ था। हाँलाकी नाम सिता से निता करने की शर्त पर सेन्सर बोर्ड ने फिल्म को हरी झंडी दिखा दी थी।

बेन्डित क्विन


शेखर कपूर की फिल्म बेन्डिट क्विन ने काफी हंगामा मचाया था। इस फिल्म का विवाद होने की वजह है फुलनदेवी। बता दें की फिल्म में सिमा विस्वासने फिल्म में फूलनदेवी का रोल निभाया था। यह कहानी फूलनदेवी की रियल स्टोरी की है ऐसा दावा किया गया था, जिसके बाद फिल्म का विरोध हुआ था।

पद्ममावत


संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत 25 जनवरी को रिलीज हो गइ है। फिल्म के रिलीज होने से पहले से ही भारी विवाद शुरु हो चुका था। गुजरात, हरियाणा, मध्यप्रदेश और राजस्थान के कई सिनेमाघरो में यह फिल्म रिलीज नहीं हो पायी. रानी पद्मिनी के किरदार का गलत चित्रण किया होने की अफवाह से यह फिल्म विरोध के आग में जल रही है।

About kalpesh kandoriya 208 Articles
SocialMedia Inflence, #Blogger #Writer #Fodie #Explorer #SEO #DigitalMarketing

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*